Home   वैयक्तिक बैंकिंग कॉरपोरेट बैंकिंग एमएसएमई बैंकिंग कृषि बैंकिंग एनआरआई बैंकिंग ग्राहक सेवा
होम    हमारे बारे में     निवेशक     आईडीबीआई समूह     सीएसआर     कैरियर     हमसे संपर्क करें     खोज     English
सूचना प्रौद्योगिकी सुरक्षा
सूचना प्रौद्योगिकी
फिशिंग
क्या करें और क्या न करें
bullet देशी ब्याज दरें
bullet एनआरआई ब्याज दर
bullet सेवा प्रभार
bullet कॉरपोरेट सेवा प्रभार
 
होम > सूचना सुरक्षा > क्या करें और क्या न करें

क्या करें और क्या न करें



व्यक्तिगत जानकारी मांगने वाले किसी भी ई-मेल का जवाब नही दें.
आईडीबीआई बैंक लि. द्वारा आपकी व्यक्तिगत जानकारी ई-मेल द्वारा भेजने के लिए कभी नहीं कहा जायेगा और न ही आपका पासवर्ड किसी भी माध्यम , ऑन-लाइन या ऑफ-लाइन, द्वारा भेजने के लिए कहा जायेगा. यदि हमारे बैंक का कोई भी कर्मचारी आपका पासवर्ड पूछता है तो उसे नहीं बताएं और उसकी जानकारी हमें दें.

अपने पासवर्ड को अत्यधिक गोपनीय रखें और बार-बार बदलते रहें.
पासवर्ड बदलने से आपके खाते को सुरक्षित रखने में सहायता मिलती है चाहे कभी आपने गलती से किसी को बता दिया हो.

अपने ऑन-लाइन खातों पर जाने के लिए कभी भी साइबर कैफे का प्रयोग न करें.
साइबर कैफे के कंप्यूटर वाइरस और ट्रोजन से ग्रसित हो सकते हैं जो आपके व्यक्तिगत डेटा लेकर धोखेबाजों को भेज सकते हैं. अनजान कंप्यूटरों पर पासवार्ड टाइप करने से बचें. यदि आप यह करते हैं तो जल्द से जल्द अपने कार्य स्थल अथवा अपने घर में अपने पीसी पर अपना पासवर्ड जरूर बदल लें.

आभासी (वर्चुअल) कीपैड का इस्तेमाल करें.
किसी अनजान पीसी या सायबर केफे से अपना खाता लॉग इन करते समय हमेशा लॉग इन पृष्ठ पर दिए गए वर्चुअल कीपैड सुविधा का इस्तेमाल करें.

अपने कंप्यूटर को सुरक्षित रखें.
कृपया यह सुनिश्चित करें कि आपके पीसी पर एंटी-वायरस सॉफ्टवेयर लगा हो तथा इसे नियमित रूप से अद्यतन करते रहें. कृपया अपने पीसी पर फायरवाल भी लगवा लें ताकि इंटरनेट सर्फ करते समय आपके कंप्यूटर पर अप्राधिकृत नियंत्रण और आपके डेटा तक पहुंच को रोका जा सके.

जो वेबसाइट आप देखने वाले हैं, वह सुरक्षित है, इसकी जांच कर लें.
अपने बैंक का विवरण या अन्य संवेदनशील जानकारी देने से पहले कुछ ऐसे जांच बिन्दु हैं जो यह सुनिश्चित करते हैं कि आपके व्यक्तिगत डेटा को सुरक्षित रखने के लिए वह साइट एक्रिप्शन का इस्तेमाल करती है. यदि `एड्रेस बार' दिखाई देती है तो उसका यूआरएल ‘https://’ (‘s’ से आशय सुरक्षित से है) से शुरू होना चाहिए न कि सामान्य ‘http://’ से. कृपया ध्यान रखें कि वेबसाइट के एक्रिप्शन इस्तेमाल करने का अर्थ हमेशा यह नहीं है कि वह वैध है. इससे केवल यह बात पता चलती है कि डेटा एनक्रिप्टेड रूप में भेजा जा रहा है.

नीचे दिए गए उपायों का पालन कर आप नेट पर अत्यधिक सुरक्षित माहौल में लेनदेन कर सकते हैं. हम निम्न आसान एहतियाती उपायों को दोहराना चाहेंगे:


  • bulletअपना पिन या पासवर्ड किसी को भी जानने न दें, उन्हें लिख कर न रखें.
  • bulletअपने सभी ऑन-लाइन खातों के लिए एक ही पासवर्ड का उपयोग न करें. .
  • bulletस्पैम ई-मेल खोलने या उनका जवाब देने से बचें भले ही वे ऐसा आभास दें कि वे बैंक द्वारा किसी उद्देश्य से भेजे गए हों.
  • bulletकिसी भी प्रकार का संदेह होने पर हमारे चौबीस घंटे उपलब्ध टोल फ्री फोन नंबर नंबर पर ग्राहक सहायता केंद्र से संपर्क करें अथवा हमें icare@idbibank.comपर मेल करें.
  • bulletब्राउज़र के नीचे की बार पर पैडलॉक निशान देखकर यह सुनिश्चित करें कि साइट सुरक्षित मोड पर चल रही है.
  • bulletअपने ब्राउज़र पर से "ऑटो कम्प्लीट" फंक्शन निक्रिय कर दें ताकि यह पासवर्ड याद न रख सके.
  • bulletब्राउज़र को सीधे ही बंद करने की बजाए हमेशा लॉगआउट कर बाहर निकलें.
  • bulletबैंक की वेबसाइट का पता हमेशा टाइप करें या इसे अपनी फेवरिट सूची में से कॉपी कर दर्ज करें.
  • bulletकृपया इसे किसी ईमेल या अन्य वेबसाइट पर दी गई लिंक से पेस्ट न करें.
  • bulletहम इस बात पर जोर देना चाहेंगे कि आप अपने पासवर्ड में # $ @ जैसे चिह्न ज़रूर शामिल करें.

चेतावनी :
यदि आपको कोई ऐसा ई-मेल मिले, जिसमें यह दावा किया गया हो कि यह आईडीबीआई बैंक से आया है और इसमें आपके खाते के बारे में संवेदनशील जानकारी माँगते हुए उसी मेल में दी गई लिंक पर आपकी पहचान की पुष्टि करने के लिए कहा जाए तो कृपया ऐसे मेल पर कोई कार्रवाई न करें. तथा ऐसे मेल को अपने इनबॉक्स से निकाल दें. साथ ही कृपया ऐसे मेल को icare@idbibank.com पर हमें अग्रेषित करें अथवा हमारे टोल फ्री बैंकिंग नंबर पर सूचना दें.

होम | शीर्ष
प्रभार अनुसूची : देशी ब्याज दरें : एनआरआई ब्याज दर
दावा अस्वीकरण : वेब मास्टर : साइट मैप : रिज़र्व बैंक : आरटीजीएस : एफएक्यू up Arrow Icon नीतियां : प्रायवेसी : हायपरलिंक : कॉपीराइट : स्क्रीन रीडर एक्सेस