Home   Personal Banking Corporate Banking MSME Banking Agri Banking NRI Banking Customer Care
होम    हमारे बारे में     निवेशक     आईडीबीआई समूह     कैरियर     हमसे संपर्क करें     खोज     English
अक्सर पूछे जानेवाले प्रश्न
आवास ऋण एफएक्यू
वैयक्तिक ऋण एफएक्यू
सुपर बचत खाते एफएक्यू
वर्ल्ड /ग्लोबल करेंसी कार्ड एफएक्यू
फिक्स्ड डिपॉज़िट एफएक्यू
संपत्ति पर ऋण एफएक्यू
गोल्ड डेबिट कार्ड एफएक्यू
इंटरनेशनल डेबिट-कम-एटीएम कार्ड एफएक्यू
कैश कार्ड एफएक्यू
किड्स कार्ड एफएक्यू
गिफ्ट कार्ड एफएक्यू
प्लेटिनम कार्ड एफएक्यू
फोन बैंकिंग एफएक्यू
कॉरपोरेट पेरोल खाता एफएक्यू वाले प्रश्न
मनी ट्रांसफर एफएक्यू
पोर्टफोलियो निवेश योजना एफएक्यू
एएसबीए आईपीओ भुगतान विकल्प एफएक्यू एटीएम उपयोग संबंधी एफएक्यू
एटीएम उपयोग संबंधी एफएक्यू
पेमेट पर एफएक्यू
bullet देशी ब्याज दरें
bullet एनआरआई ब्याज दर
bullet सेवा प्रभार
bullet कॉरपोरेट सेवा प्रभार
 
अक्सर पूछे जानेवाले प्रश्न > पेमेट

वैयक्तिक ऋण संबधी प्रश्न – आईडीबीआई पेमेट सेवा

1. पेमेट क्या है?
आईडीबीआई बैंक ने पेमेट के साथ मिलकर एक अनूठी मोबाइल फोन भुगतान सेवा आरंभ की है, जिसके ज़रिए आप अपने मोबाइल फोन का इस्तेमाल ई-बटुए की तरह करते हुए प्राधिकृत मर्चेंटों से, जो ऐसे भुगतान स्वीकार करते हों, ऑनलाइन या काउंटर पर की गई ख़रीदारियों के लिए आसान व सुरक्षित भुगतान कर सकते हैं.
   
2. पेमेट का उपयोग करने पर मेरा भुगतान कौन स्वीकार करेगा?
आप इस पेमेट सेवा का उपयोग ऑनलाइन पोर्टल, प्रमुख वॉइस पोर्टल व चुनिंदा प्रमुख रिटेल श्रृंखलाओं सहित 13000 से अधिक प्राधिकृत मर्चेंट के यहाँ कर सकते हैं. मर्चेंटों की यह सूची लगातार बढ़ती जा रही है. (मर्चेंटों की सूची के लिए यहाँ क्लिक करें).यही नहीं, आप इससे सिनेमा और फ्लाइट की टिकट ख़रीद सकते हैं, फूल और उपहार भिजवा सकते हैं, अपने यूटिलिटी बिल शुल्क अदा कर सकते हैं, यहाँ तक कि मोबाइल फोन का इस्तेमाल कर अपने पसंदीदा रेस्त्रां या रिटेल स्टोर पर भी भुगतान कर सकते हैं. ये भुगतान तुरंत कर इन्हें आपके सहबद्ध (लिंक्ड) बचत या चालू खाते में चढ़ा दिया जाएगा. यह सुविधा पूर्णतया सुरक्षित है, क्योंकि इसमें आपको कार्ड की तरह अपना कार्ड नंबर या सीवीवी नंबर प्रकट नहीं करना पड़ता.
   
3. पेमेट सेवा का लाभ उठाने के लिए मुझे क्या करना होगा?
आपके पास केवल एक मोबाइल फोन और आईडीबीआई बैंक में बचत या चालू खाता होना चाहिए. इस अनूठी सेवा का लाभ उठाने के लिए ग्राहक हमारी नज़दीकी शाखा में पंजीयन फॉर्म भर कर या इंटरनेट बैंकिंग / एटीएम के ज़रिए पंजीयन करवा सकते हैं.
   
4. क्या यह सेवा किसी विशेष मोबाइल फोन या ऑपरेटर के लिए ही है?
यह सेवा किसी भी मोबाइल फोन या किसी भी मोबाइल ऑपरेटर के ज़रिए ली जा सकती है. पेमेट का काम बहुत बुनियादी किस्म के फोन (जीएसएम या सीडीएमए) से चल सकता है और इसके लिए किसी मोबाइल ऑपरेटर को पंजीयन करवाने की ज़रूरत नहीं पड़ती. यह सेवा पोस्ट-पेड और प्री-पेड, दोनों ही मोबाइल कनेक्शनों पर लागू है.
   
5. क्या पेमेट के लिए किसी जावा एप्लिकेशन को डाउनलोड करना पड़ेगा या जीपीआरएस / वेप कनेक्शन लेना होगा?
जी नहीं. यह आईवीआर (इंटरेक्टिव वॉइस रिस्पॉन्स) पर आधारित एक सरल सेवा है, जो बेहद आसान और किफायती है.
   
6.

क्या मेरे खाते के विवरण सुरक्षित रहेंगे?
बिल्कुल सुरक्षित रहेंगे. चूँकि आप पेमेट सेवा के लिए बैंक में पंजीयन करते हैं, किसी थर्ड पार्टी वेंडर के साथ नहीं, इसलिए आपका बैंक खाता और अन्य व्यक्तिगत विवरण बैंक के पास ही रहते हैं. इसके अलावा आपको कोई कार्ड नंबर भी बताना नहीं पड़ता, इसलिए इसके दुरुपयोग की कोई आशंका नहीं है.

   
7.

मुझे अपना पिन कैसे मिलेगा?
आप पंजीयन फॉर्म भरकर जैसे ही इस सेवा के लिए पंजीयन कराएंगे, आपको अपने पंजीकृत मोबाइल पर एसएमएस के ज़रिए चार अंकों का एक अस्थायी पिन मिलेगा. आपको अपना पहला भुगतान करने से पहले इस पिन को बदल कर नया पिन एक सुरक्षित आईवीआर कॉल को सूचित करना होगा. कृपया नोट करें कि जब तक आप अपना अस्थायी पिन बदल नहीं देते, तब तक कोई लेनदेन नहीं होगा.

   
8.

क्या मैं अपना पिन बदल सकता हूँ?
बिल्कुल. आप जितनी बार चाहें, अपना पिन बदल सकते हैं. इसके लिए आपको 9870900876 पर ‘CP’ एसएमएस करना होगा. .

   
9. पेमेट लेनदेन कितने सुरक्षित हैं?
आपको किसी को भी अपने खाते / कार्ड के विवरण, एक्सपायरी डेट, सीवीवी नंबर आदि नहीं बताने पड़ते. हर लेनदेन आपके चार अंक वाले पिन से प्राधिकृत होता है, जो सिर्फ आपको ही मालूम होता है. यह पिन आपके मोबाइल से भेजे जाने पर ही यह सुनिश्चित किया जा सकेगा कि आप इस लेनदेन को प्राधिकृत कर रहे हैं.
   
10.

यदि मेरा मोबाइल फोन खो जाए या चोरी हो जाए, तो क्या होगा?
जब तक किसी को आपका पिन मालूम न हो, उसके द्वारा उस खोए या चोरी हुए फोन का भुगतान के लिए दुरुपयोग करने का सवाल ही नहीं उठता. कृपया अपना पिन याद रखें और कभी इसे अपने मोबाइल पर स्टोर नहीं करें. मोबाइल फोन खो जाने पर इसकी सूचना सबसे पहले अपने मोबाइल ऑपरेटर को देकर एसएमएस डिएक्टिवेट करवा लें. जैसे ही यह हो जाए, आपका फोन भुगतान करने के योग्य नहीं रहेगा. दूसरा विकल्प यह है कि आप बैंक को टोल फ्री नंबर पर कॉल कर इस सेवा को अस्थायी तौर पर डिएक्टिवेट करवा लें.

   
11.

यदि किसी को मेरा मोबाइल नंबर पता हो और उसे मेरा पिन मालूम पड़ जाए, तो क्या होगा?
इससे कोई फर्क नहीं पड़ता. वह व्यक्ति तब तक ट्रांजेक्शन नहीं कर सकता जब तक उसे आपका 4 अंकों वाला मोबाइल पिन न पता हो और चार अंकों वाले पिन के ज़रिए भुगतान तभी प्राधिकृत होता है, जब वह आपके मोबाइल नंबर से ही किया जाए.

   
12.

इस सेवा के ज़रिए मैं भुगतान कैसे करूँगा?
जब कभी आप प्राधिकृत मर्चेंट को भुगतान करने के लिए पेमेट सेवा का लाभ उठाना चाहें, आपको अपना मोबाइल नंबर बताना होगा. तुरंत ही आपको आईवीआर कॉल आएगा, जो आपसे चार अंकों वाला पिन दर्ज़ कर भुगतान प्राधिकृत करने के लिए कहेगा. जैसे ही आप इस कॉल का उत्तर देंगे, चंद सेकंडों में बैंक विवरणों को प्राधिकृत करते हुए आपके खाते से राशि नामे कर देगा. इसकी पुष्टि आपको तुरंत एसएमएस संदेश द्वारा कर दी जाएगी और मर्चेंट सिस्टम को भी स्थिति से अवगत करा दिया जाएगा.

   
13.

लेनदेन को प्राधिकृत करने के लिए मैं अपना ‘पिन’ कैसे इस्तेमाल करूँ?
भुगतान करते समय आपको उस समय आए सुरक्षित आईवीआर कॉल पर केवल अपना पिन की प्रविष्टि करनी होगी.

   
14.

क्या मैं अपने मोबाइल नंबर को एक से अधिक खातों के साथ लिंक कर सकता हूँ?
जी नहीं. फिलहाल यह सुविधा एक मोबाइल नंबर पर पंजीयन के समय आपके द्वारा चुने जाने वाले एक ही बचत या चालू खाते तक ही सीमित रखी गई है.

   
15.

यदि ख़रीदे गए सामान या प्रभारित राशि पर कोई विवाद हो, तो क्या होगा?
सामान के संबंध में कोई विवाद होने पर आपको मर्चेंट से संपर्क कर वही प्रक्रिया अपनानी होगी जैसी आप नकद या कार्ड से ख़रीद पर अपनाते हैं. प्रभारित राशि के संबंध में कोई विवाद होने पर आपको बैंक से संपर्क करना होगा और इसमें वही दिशा-निर्देश अपनाए जाएंगे, जो किसी कार्ड से किए लेनदेन पर लागू होते हैं.

   
16.

यदि मेरा मोबाइल नंबर बदल जाए तो?
आपको बैंक से संपर्क कर पत्र द्वारा यह सूचित करना होगा कि पुराने नंबर को बदल कर नया नंबर नोट करें, ताकि आपका खाता पुराने मोबाइल नंबर से डिलिंक कर नए मोबाइल नंबर से लिंक किया जा सके.

   
17.

मेरी दैनिक लेनदेन सीमा क्या होगी?
दैनिक लेनदेन सीमा भारतीय रिज़र्व बैंक के दिशा-निर्देशानुसार लागू की जाती हैं. फिलहाल सामान और सेवा की ख़रीदी के लिए दैनिक सीमा 10,000/- रुपये है.

   
18.

किसी लेनदेन के संबंध में जानकारी प्राप्त करने के लिए मुझे क्या करना होगा?
किसी भी प्रकार की अतिरिक्त जानकारी अथवा समस्या के लिए आप हमारे टोल फ्री फोन बैंकिंग नंबर (बीएसएनएल/ एमटीएनएल के लिए: 1800-22-1070 और अन्य ऑपरेटरों के लिए:1800-200-1947) पर संपर्क करें.

   
19.

क्या इस सेवा का लाभ उठाने के लिए या मर्चेंट से लेनदेन करने के लिए मुझे कोई प्रभार अदा करना होगा?
यह सेवा बैंक अपने ग्राहकों को बिल्कुल नि:शुल्क दे रहा है. लेकिन ऑनलाइन ख़रीदी के मामले में मर्चेंट ख़रीदे गए सामान की आपके पते पर डिलिवरी करने के लिए उचित कुरियर या हैंडलिंग चार्ज लगा सकता है. यह नोट किया जाए कि उक्त कुरियर / हैंडलिंग चार्ज, यदि कोई हों तो, भुगतान के किसी भी तरीके पर देय हो सकते हैं और वे केवल पेमेट लेनदेन के लिए ही नहीं होते.

   
होम | शीर्ष
प्रभार अनुसूची : देशी ब्याज दरें : एनआरआई ब्याज दर
दावा अस्वीकरण : वेब मास्टर : साइट मैप : रिज़र्व बैंक : आरटीजीएस : एफएक्यू up Arrow Icon नीतियां : प्रायवेसी : हायपरलिंक : कॉपीराइट : स्क्रीन रीडर एक्सेस