Home   Personal Banking Corporate Banking MSME Banking Agri Banking NRI Banking Customer Care
होम    हमारे बारे में     निवेशक     आईडीबीआई समूह     कैरियर     हमसे संपर्क करें     खोज     English
म्यूचुअल फंड
फायदे
विशेषताएं और लाभ
प्रमुख विशिष्ट प्लान
आवेदन कैसे करें
देशी ब्याज दरें
एनआरआई ब्याज दर
आवेदन कैसे करें
Talk to us
 
वैयक्तिक > निवेश > निवेश सलाह > म्यूचुअल फंड

श्रेष्ठ म्यूचुअल फंड – आईडीबीआई म्यूचुअल फंड


 

म्यूचुअल फंड एक ऐसे निधि संग्रहण से बना फंड है जिसमें पूंजी अभिलाभ के लिए शेयरों, बांडों,पूंजी बाजार आदि जैसी प्रतिभूतियों में निवेश के उद्देश्य से कई निवेशकों से निधियां एकत्र की जाती हैं.आप अपने वित्तीय लक्ष्यों/उद्देश्यों को हासिल करने के लिए आईडीबीआई बैंक के साथ म्यूचुअल फंड में निवेश कर सकते हैं.



म्यूच्युअल फंडों में निवेश के फायदे

bullet नियंत्रित निवेशः सेबी द्वारा फंडों का विनियमन किया जाता है ताकि निवेशक के हित सुरक्षित रहें.

bullet कर लाभ : एक साल से ज्यादा समय के लिए रखी यूनिटों पर दीर्घकालिक पूंजी लाभ कर नहीं. करमुक्त लाभांश.

bulletचलनिधि : अधिकांश असीमित अवधि वाले फंड मौजूदा एनएवी पर 3 कार्यदिवसों के भीतर विमोचित किये जा सकते हैं.

bullet सुविधाजनक : निवेश आसान और विमोचन भी आसान.

bullet जोखिम विविधीकरण : विविधीकृत पोर्टफोलियो से जोखिम नियंत्रण में और विभिन्न उद्योगों और स्टॉक में पूरी व्यापकता के साथ निवेश करने की सुविधा मिलती है.

bullet लचीलापन : इसके अंतर्गत अनेक विशेषताएं जैसे सिस्टमेटिक निवेश योजना, सिस्टमेटिक ट्रांसफर योजना और सिस्टमेटिक आहरण योजना भी प्रदान की जाती है. अधिकांश फंड आंतरिक रूप से परिवर्तन जैसे ऋण फंड से इक्विटी फंड आदि में स्विच करने की सुविधा प्रदान करते हैं.

bullet पारदर्शिता : नियमित रूप से दैनिक एनएवी की घोषणा तथा पोर्टफोलियो का प्रकटन.

bullet प्रोफेशनल प्रबंधन :निधियों का प्रबंधन कुशल फंड प्रबंधकों द्वारा किया जाता है.



आईडीबीआई बैंक म्यूचुअल फंड निवेश – विशेषताएं और लाभ

आईडीबीआई बैंक के ज़रिए म्यूचुअल फंडों में निवेश करने के कई लाभ हैं और हम हमारे ग्राहकों को कई विशेष सुविधाएं प्रदान करते हैं.

bullet हम आपकी जरूरतों को पूरा करते हैं :
हम इस बात में यकीन रखते हैं कि हर व्यक्ति की अपनी कुछ खास जरूरतें और प्राथमिकताएं होती हैं. आपकी कई जरूरतें हो सकती हैं जैसे : मकान खरीदने से लेकर बच्चे की पढ़ाई का इंतजाम और बच्चे का विवाह आदि. आपकी सभी जरूरतें हमारे लिए महत्वपूर्ण हैं. कई योजनाओं में से आपकी जरूरत के मुताबिक बेहतर स्कीम का चयन करने में मदद कर हम आपके सपनों को साकार करने में सहायता कर सकते हैं.

bullet हम निवेश संस्कृति का निर्माण करने में योगदान करते हैं :
हमारा हमेशा प्रयास बना रहता है कि आप में बचत और व्यवस्थित रूप से निवेश की आदत विकसित हो. हम आपके निवेशों की योजना बनाने में और लाभदायक म्यूच्युयल फंड फोर्टफोलियो निर्मित करने में मदद करेंगे ताकि आपको अपनी जरूरतों के लिए एक सर्वाधिक लाभदायक समाधान मिल सके. निवेश की यह संस्कृति न केवल आपकी, बल्कि आपके परिवार की भी मदद करेगी.

bullet हम आपको ’सभी वित्तीय समाधान एक छत के नीचे ’ उपलब्ध करा सकते हैं :
आप हमारे ज़रिए म्यूच्युयल फंड स्कीमों में निवेश तो कर ही सकते हैं, साथ ही आप हमारी बैंकिंग सेवाओं का लाभ भी ले सकते हैं. आप हमारे यहां वित्तीय उत्पादों की बड़ी श्रृंखला जैसे बचत व चालू खाता, एटीएम कार्ड, वैयक्तिक ऋण योजनाएं, डिपोजिटरी सेवाएं, यूनिटों / शेयरों आदि पर ऋण आदि का लाभ उठा सकते हैं. आप पाएंगे कि आपकी सभी वित्तीय जरूरतों का समाधान एक छत के नीचे मिल रहा है.

bullet हम आपको सर्वोत्तम का ही परामर्श देते हैं -
इक्विटी फंड : इक्विटी फंड में स्टॉक निवेश शामिल रहता है और म्युच्युअल फंडों में यह सर्वाधिक आम तौर पर उपलब्ध फंड है. फंडों की हमारी सौगात में अनेक प्रकार के इक्विटी स्कीमों का परामर्श शामिल रहता है. प्रतिष्ठित रिसर्च एजेन्सी द्वारा भारतीय म्यूच्युयल फंड जगत के गुणवत्ता और आकड़ापरक मूल्यांकनें के समन्वय के आधार पर ही इन फंडों का चयन किया जाता है. चुने हुए इन फंडों की हर माह समीक्षा की जाती है और संशोधन किया जाता है.संपर्क प्रबंधकों की हमारी टीम आपकी व्यक्तिगत जोखिम प्रोफाईल और आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए आपको अनुसंधान आधारित मार्गदर्शन प्रदान करती है. हम सेवानिवृति के लिए योजना तैयार करने, आपकी विरासत बरकरार रखने और आपकी वर्तमान व भावी संपत्ति के प्रबंध में आपकी मदद करते हैं.



आईडीबीआई बैंक के प्रमुख विशिष्ट प्लान इस प्रकार हैं

bullet एसआईपी - प्रणालीबद्ध निवेश योजना : एसआईपी - प्रणालीबद्ध निवेश योजना लंबी अवधि के दौरान अनुशासित तरीके से संपत्ति जोड़ने की एक सरल व समय पर खरी उतरनेवाली निवेश ऋण नीति है. इस योजना का उद्देश्य अपने निवेशकों को बेहतर भविष्य प्रदान करना है क्योंकि एसआईपी निवेश एकमुश्त निवेश के मुकाबले बेहतर दर से रिटर्न प्राप्त करते हैं.एसआईपी मे रुपये की लागत का औसतकरण सुनिश्चित किया जाता है क्योंकि सतत निवेश यह सुनिश्चित करता है कि प्रति यूनिट औसत लागत मार्केट के औसत मूल्य की निम्नतर रेंज में फिट हो जाए.

• एसआईपी मे निवेशक आय कमाना शुरू करते ही निवेश करना शुरू कर सकता है. आय के एक हिस्से को निवेश कर देने से जीवन की बाद की अवस्था में आने वाले बड़े खर्चों के लिए व्यवस्था हो जाती है.

• एसआईपी के जरिए निवेश से संपत्ति संचय में चक्रवृद्धि दर से वृद्धि होती है.

• एसआईपी के जरिए निवेश करने से रिटर्न पर मार्केट के उतार-चढ़ाव के असर को कम करने में मदद मिलती है.

bullet ईएलएसएस - इक्विटी से जुड़ी बचत योजनाएं : इक्विटी फंड में स्टॉक निवेश शामिल रहता है और म्युच्युअल फंडें में यह सर्वाधिक आम तौर पर उपलब्ध फंड है. फंडों की हमारी सौगात में अनेक प्रकार के इक्विटी स्कीमों का परामर्श शामिल रहता है. प्रतिष्ठित रिसर्च एजेन्सी द्वारा भारतीय म्यूच्युयल फंड जगत के गुणवत्ता और आकड़ापरक मूल्यांकनों के समन्वय के आधार पर ही इन फंडों का चयन किया जाता है. चुने हुए इन फंडों की हर माह समीक्षा की जाती है और संशोधन किया जाता है. संपर्क प्रबंधकों की हमारी टीम आपकी व्यक्तिगत जोखिम प्रोफाईल और आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए आपको अनुसंधान आधारित मार्गदर्शन प्रदान करती है. हम आपकी सेवानिवृति के लिए योजना तैयार करने, आपकी विरासत बरकरार रखने और आपकी वर्तमान व भावी संपत्ति के प्रबंध में आपकी मदद करते हैं.

•ईएलएसएस का सबसे बड़ा फायदा यह है कि इसमें लॉक-इन अवधि छोटी यानी सिर्फ 3 साल की रहती है.
•चूंकि यह इक्विटी से जुड़ी योजना है. अतः अर्जन संभावनाएं बहुत अधिक है. इसमें निवेशकों को पूंजी बाजार लाभ कमाने के साथ साथ कर बचाने का विकल्प भी प्राप्त होता है
•निवेशक लाभांश विकल्प ले सकते हैं, जिससे उन्हें लॉक इन अवधि में कुछ लाभ प्राप्त होते रहता है.
•निवेशक ईएलएसएस में एसआईपी - प्रणालीबद्ध निवेश योजना का विकल्प भी अपना सकते हैं.
•कुछ ईएलएसएस स्कीमों में व्यक्तिगत दुर्घटना मृत्यु कवर बीमा भी प्रदान किया जाता है.

bullet आपके सपनों की पूरा करने के लिए आपको सिर्फ यह करना है ....
•अपने सपनों को वित्तीय लक्ष्यों में साकार करना.
•उनमें से हरेक के लिए वास्तविकतापरक समय सीमा तय करना.
•उन्हें हासिल करने के लिए एक निवेश ऋण नीति तैयार करना.

आवेदन कैसे करें

अधिक जानकारी के लिए कृपया अपनी नज़दीकी शाखा में हमारे संपर्क प्रबंधक से संपर्क करें.

जोखिम पहलू :
आईडीबीआई बैंक केवल वितरण सेवाएं देता है. निवेश का निर्णय स्वयं ग्राहक के जोखिम और दायित्व पर रहेगा.
जोखिम पहलू :
म्युच्युअल फंडों व प्रतिभूतियो में निवेश मार्केट जोखिमों के अधीन हैं और स्कीमों के उद्देश्य हासिल हो जाने का कोई आश्वासन या गारंटी नही है. निवेश करने से पहले स्कीम - विशिष्ट जोखिम पहलुओं के लिए ऑफर दस्तावेज देखें. यह दस्तवेज म्यूच्युअल फंड यूनिटों की खरीद के लिए सलाह नहीं है.

होम | शीर्ष
प्रभार अनुसूची : देशी ब्याज दरें : एनआरआई ब्याज दर
दावा अस्वीकरण : वेब मास्टर : साइट मैप : रिज़र्व बैंक : आरटीजीएस : एफएक्यू up Arrow Icon नीतियां : प्रायवेसी : हायपरलिंक : कॉपीराइट : स्क्रीन रीडर एक्सेस