Home   Personal Banking Corporate Banking MSME Banking Agri Banking NRI Banking Customer Care
होम    हमारे बारे में     निवेशक     आईडीबीआई समूह     कैरियर     हमसे संपर्क करें     खोज     English
bullet देशी ब्याज दरें
bullet एनआरआई ब्याज दर
bullet सेवा प्रभार
bullet कॉरपोरेट सेवा प्रभार
व्यक्तिगत> निवेश >पूंजी बाज़ार >बीमा रिपॉज़िटरी

पूंजी बाज़ार – इलेक्ट्रोनिक बीमा खाता



“बीमा संग्राहक” का अर्थ है एक ऐसी कंपनी जिसका गठन और पंजीकरण 1956 के कंपनी अधिनियम के तहत किया गया हो और जिसे बीमा विनियामक और विकास प्राधिकरण (आईआर डीए) द्वारा बीमाकर्ताओं की तरफ से इलेक्ट्रोनिक फ़ॉर्म में बीमा पॉलिसी के डाटा को बनाए रखने के लिए पंजीकरण का प्रमाण पत्र प्रदान किया गया हो.


बीमा संग्राहक प्रणाली को कार्यान्वित करने के लिए, आईआरडीए ने निम्नलिखित पाँच संस्थाओं को पंजीकरण प्रमाण पत्र प्रदान किया गया हैं, ताकि वह बीमा रिपॉज़िटरी के रूप में कार्य कर सकें.


  • एनएसडीएल डेटाबेस प्रबंधन लिमिटेड– www.nir.ndml.in


  • केंद्रीय बीमा रिपॉज़िटरी लिमिटेड– www.cirl.co.in


  • एसएचसीआईएल प्रोजेक्ट्स लिमिटेड- www.shcilir.com


  • कार्वी बीमा रिपॉज़िटरी लिमिटेड – www.kinrep.com


  • सीएएमएस रिपॉज़िटरी सेवाएँ लिमिटेड- www.camsrepository.com


पॉलिसी धारक इलेक्ट्रोनिक बीमा खाते (ईएलए) के तहत अपनी पसंद की किसी भी बीमा रिपॉज़िटरी में अपनी पॉलिसियों को खरीद और रख सकता है. फिजिकल मोड में धारित मौजूदा पॉलिसी को भी डीमेटरलाईज्ड किया जा सकता हैं और ईएलए में रखा जा सकता हैं. सभी पॉलिसियों तक एक बटन की क्लिक से पहुंचा जा सकता है. बीमा रिपॉज़िटरी प्रणाली न केवल पॉलिसी धारक को इलेक्ट्रोनिक रूप में बीमा पॉलिसी रखने की सुविधा प्रदान करती हैं, बल्कि उन्हे तेजी और सटीकता के साथ बीमा पॉलिसी में परिवर्तन, संशोधन और परिवर्तन की सुविधा प्रदान करता हैं. इसके अलावा पॉलिसी सेवाओं के लिए रिपॉज़िटरी एक ‘सिंगल स्टॉप शॉप‘ के रूप में कार्य करती हैं.


पॉलिसी सेवाओं के ढांचे का डायग्राम निम्नानुसार हैं:


पॉलिसी धारकों के लिए इसमें क्या हैं...........


  • सुविधा: संपर्क के लिए एकल बिन्दु

  • एकत्रीकरण और सिंगल व्यू

  • सुरक्षा: संग्रहण जोखिम और कागज़ को खत्म करना

  • मांग पर सेवा

  • दक्षता और पारदर्शिता

  • रखरखाव में आसान

  • संभावित रूप से कम प्रीमियम

4. रिपॉज़िटरी ईको प्रणाली:


  • बीमा रिपॉज़िटरी के तहत बीमा कंपनियों के साथ समझौता किया जाता हैं, जो रिपॉज़िटरी के साथ बीमा पॉलिसी से संबंधित इलेक्ट्रोनिक डाटा साझा करते हैं.

  • बीमा रिपॉज़िटरी एक ई-बीमा खाता खोलने के लिए केवाईसी करता हैं और एक स्वागत किट प्रदान करता हैं एवं खाता का उपयोग कैसे करें, इसका विवरण देता हैं.

  • पॉलिसीधारक पॉलिसी लेने के समय या किसी समय बाद में ई-बीमा खाते के लिए बीमा रिपॉज़िटरी से अनुरोध कर सकते हैं और पॉलिसी को खाते में जमा कर सकते हैं.

  • दोनों नए और मौजूदा जीवन, वार्षिकियाँ, स्वास्थय और सामान्य बीमा पॉलिसियां सभी को इस खाते में जमा कर सकते हैं. तथापि, आरंभिक चरण के दौरान, जीवन बीमा पॉलिसियां इस खाते में जमा की जाएगी. इस खाते में बाद में सामान्य बीमा, समूह बीमा समूह पॉलिसियाँ जमा की जाएगी.

  • पॉलिसीधारक को ई-बीमा खाता और सभी सेवाएं नि:शुल्क दी जाएगी.

  • जब नई ई-पॉलिसी जारी होती है तो बीमाकर्ता बीमा पॉलिसी के मूल ब्यौरे देते हुये एक बीमा सूचना शीट भेजेगा.

  • बीमा रिपॉज़िटरी बीमाधारक द्वारा प्रीमियम और बीमाकर्ताओं द्वारा सभी भुगतानों (दावों) के ऑनलाइन भुगतान की सुविधा प्रदान करता हैं और कई अन्य बीमा संबंधी जरूरतों को पूरा करता हैं.

  • सेवा अनुरोध प्राप्त होने पर, बीमा रिपॉज़िटरी उन कार्यों को संभालता हैं, जो सीधे उनकी सेवाओं के दायरे में आते हैं और बाकी को वे बीमाकर्ता को भेजेंगे.

  • पॉलिसीधारक एक अधिकृत प्रतिनिधि को नियुक्त कर सकता हैं जो पॉलिसीधारक की मृत्यु / अपंगता पर ई-बीमा खाते तक पहुँच कर सकते हैं, और जो नामितियों को दावों की प्रोसेसिंग में सहायक हो सकते हैं.

  • ई-बीमा खाता धारक के पास एक रिपॉज़िटरी से दूसरे में बदलाव करने का विकल्प होगा.

  • बीमा रिपॉज़िटरी द्वारा इलेक्ट्रोनिक रूप से धारित सभी पॉलिसियों का ब्यौरा देते हुए वार्षिक विवरण प्रदान किया जाएगा.
होम | शीर्ष
प्रभार अनुसूची : देशी ब्याज दरें : एनआरआई ब्याज दर
दावा अस्वीकरण : वेब मास्टर : साइट मैप : रिज़र्व बैंक : आरटीजीएस : एफएक्यू up Arrow Icon नीतियां : प्रायवेसी : हायपरलिंक : कॉपीराइट : स्क्रीन रीडर एक्सेस